Saturday, June 4, 2011

बस दर्द ही लिया है

कितना प्यार छलकता था तेरी आँखों से,
जिसको हर पल मैने महसूस किया है,
रो रहा था मन जब मेरा मुस्कुरा कर,
प्यार देकर भी तो मैने दर्द ही लिया है।
तेरे पहलू में छुपा कर आँख अपने,
आँसूओं की जब कभी बरसात होती,
भींग जाता था तुम्हारा भी तो दामन,
और मैने भी तो खुद को भींगो लिया है।

राह तेरे तकते जाने कब रात होती,
और रातों में चाँद से बात होती,
ढ़ुँढ़ते रह जाते थे तुमको वहाँ पर,
तुमने कहाँ से मुझको आवाज दिया है?

है खबर ना खूद की ना ही है जहाँ की,
मै तो अब बन गया हूँ तेरा दिवाना,
मर गया भी तो गम नहीं है मुझको,
रुह की भी है तमन्ना बस तुमको पाना।

क्या बताऊँ,कैसे दिखाऊँ आज तुमको,
आँसूओं को भी पानी समझ कर पी लिया है।

प्यार में है ऐसा लगता सब कुछ खोकर,
और भी कुछ रह गया है लुटाना,
पा लिया है जिंदगी में सब कुछ मैने,
पर तुम्हारे बिन है सब व्यर्थ पाना।

यूँ नहीं ये हाल दिल का हो रहा है,
तेरी यादों में ही हर पल तेरे संग जिया है।

14 comments:

शालिनी कौशिक said...

है खबर ना खूद की ना ही है जहाँ की,
मै तो अब बन गया हूँ तेरा दिवाना,
मर गया भी तो गम नहीं है मुझको,
रुह की भी है तमन्ना बस तुमको पाना।
jis dil me pyar bhara hota hai uski shayad aisee hi tammana hoti hai.aapne apne shabdon me bahut hi bhavpoorn roop se abhivyakt kiya hai.

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) said...

प्यार में है ऐसा लगता सब कुछ खोकर,
और भी कुछ रह गया है लुटाना,
पा लिया है जिंदगी में सब कुछ मैने,
पर तुम्हारे बिन है सब व्यर्थ पाना।

बहुत बढ़िया दोस्त!

सादर

anupama's sukrity ! said...

है खबर ना खूद की ना ही है जहाँ की,
मै तो अब बन गया हूँ तेरा दिवाना,
मर गया भी तो गम नहीं है मुझको,
रुह की भी है तमन्ना बस तुमको पाना।


प्यार में भीगे भीगे से बहुत सुंदर एहसास ....!!

Anita said...

फिर वही दिल लाया हूँ ! सुंदर रचना !

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत भाव पूर्ण रचना

वन्दना said...

बेहद भावभीनी प्यार से लबरेज़ कविता।

प्रवीण पाण्डेय said...

याद भी तो साथ रहने जैसी होती है।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति!

Mani Singh said...

acchi abhivyakti dil ke dard ko shabdo me piroya hai aapne

***Punam*** said...

मर गया भी तो गम नहीं है मुझको,
रुह की भी है तमन्ना बस तुमको पाना।


excellent !!

kshama said...

Kisee ek ke bina,sab kuchh hote hue bhee,sab kuchh wyarth lagta hai!

Roshi said...

dard bhari sarthak abhivyakti

LAXMI NARAYAN LAHARE said...

"बस दर्द ही लिया है"... bahut sundar ...
hardik badhai...

Dr Varsha Singh said...

अच्छी प्रस्तुति.....